आर्थिक सर्वेक्षण

आर्थिक समीक्षा 2013-14 जो वित्त मंत्रालय, भारत सरकार का फ्लैगशिप वार्षिक दस्ताकवेज है, विगत 12 महीनें में भारतीय अर्थव्यवस्था में घटनाक्रमों की समीक्षा करता है, प्रमुख विकास कार्यक्रमों के निष्पादन का सार प्रस्तुत करता है और सरकार की नीतिगत पहलों तथा अल्पावधि से मध्यावधि में अर्थव्यवस्था की संभावनाओं पर विधिवत प्रकाश डालता है। इस दस्तावेज को बजट सत्र के दौरान संसद के दोनों सदनों में पेश किया जाता है।


यह रिपोर्ट एवं क्षेत्रक अर्थव्योवस्था के सभी पहलुओं को शामिल करते हुए विस्तृसत आंकड़ों के साथ निम्नाकित मामलों का सिंहावलोकन करती है:

  1. भारतीय अर्थव्यवस्था की दशा
  2. चुनौतियां, नीतिपरक प्रतिक्रियाएं और मध्यावधिक दृष्टिीकोण
  3. राजकोषीय नीति एवं मौद्रिक प्रबंधन
  4. वित्तीय हस्तदक्षेप एवं बाजारों की भूमिका
  5. विदेशी सेक्टर, भुगतान संतुलन तथा व्यापार
  6. कृषि, औद्योगिक विकास एवं सेवा क्षेत्र
  7. ऊर्जा, अवसंरचना और संचार
  8. मानव विकास, जलवायु परिवर्तन और सार्वजनिक कार्यक्रम
  9. भारत एवं वैश्विक अर्थव्यवस्था्

यह दस्तावेज नीति निर्धारकों, अर्थशास्त्रियों, नीति विश्लेाषकों, व्यवसायियों, सरकारी एजेंसियों, छात्रो, अनुसंधानकर्ताओं, मीडिया तथा भारतीय अर्थव्यृवस्था के विकास में रुचि रखने वालों के लिए उपयोगी होगा।

राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र द्वारा डिजाइन, होस्ट और विकसित, सूचना वित्त मंत्रालय द्वारा प्रदान की गई है .